दोस्तों, अगर आप ऑस्टोकेल्शियम शिरप का उपयोग Ostocalcium Syrup Uses in Hindi ऑस्टोकेल्शियम क्या है? और इसके साइड इफेक्ट्स आदि के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं, तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं! क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम आपके लिए ऑस्टोकेल्शियम (Ostocalcium In Hindi) से संबंधित हर एक छोटी से छोटी जानकारी लेकर आए हैं!

ओस्टोकल्शियम एक बहुत ही प्रसिद्ध दवा है, जिसका इस्तेमाल मुख्य रूप से शरीर में हो रहे कैल्शियम की कमी को दूर करने के लिए किया जाता है!

इसलिए अगर आप भी इस दवा के बारे में संपूर्ण जानकारी हासिल करना चाहते हैं, तो हमारे आज के आर्टिकल ऑस्टोकेल्शियम सिरप का उपयोग और साइड इफेक्ट्स Ostocalcium Syrup Uses in Hindi को शुरू से लेकर अंत तक जरूर पढ़ें!

Ostocalcium Syrup Uses in Hindi

ओस्टोकैल्शियम क्या है?

ओस्टोकैल्शियम एक प्रकार का drug (दवा) होता है जिसका इस्तेमाल मुख्यतः शरीर में कैल्शियम की कमी को पूरा करने के लिए किया जाता है!

प्रत्येक व्यक्ति के शरीर को सुचारू रूप से काम करने के लिए एक निश्चित मात्रा में कैल्शियम, विटामिन D और मिनरल्स की जरूरत होती है! लेकिन एक निश्चित उम्र के बाद, या कभी – कभी किसी बीमारी के वजह से, जब व्यक्ति के शरीर में कैल्शियम की कमी होने लगती है!

तो ऐसे समय में डॉक्टर मरीज को ओस्टोकैल्शियम की टेबलेट लेने की सलाह देते हैं! Ostocalcium लेने से शरीर में कैल्शियम और विटामिन डी की कमी पूरी हो जाती है और इससे हड्डियों को भी मजबूती मिलती है!

बच्चों में भी जब कैल्शियम की कमी हो जाती है तो डॉक्टर बच्चों को ओस्टोकैल्शियम की खुराक देते हैं! इसलिए अब आप अच्छे से समझ ही गए होंगे कि Ostocalcium कितनी महत्वपूर्ण दवा है!

इसे सरल शब्दों में कहें तो, ओस्टोकैल्शियम एक ऐसी दवा है जो शरीर में कैल्शियम की कमी को पूरा करता है! इसका उपयोग बच्चा, बूढ़ा, जवान सबके लिए कारगर होता है!

ऑस्टोकेल्शियम क्या काम आता है?

ओस्टोकैल्शियम में कैल्शियम, फॉस्फेट और विटामिन D3 मुख्य component के रुप में मौजूद होते हैं!

जहां कैल्शियम हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है, तो वहीं विटामिन D3 शरीर में कैल्शियम के absorption को बढ़ाने के साथ साथ, शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने, हड्डियों को मजबूत और स्वस्थ बनाने में अहम भूमिका निभाता है!

क्या ostocalcium हड्डियों के लिए अच्छा है?

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया Ostocalcium के मुख्य तत्व कैल्शियम, फॉस्फेट और विटामिन D3 हैं! ऐसे में इसका सेवन शरीर में कैल्शियम की पूर्ति करने में मदद करता है!

इसमें मौजूद कैल्शियम और विटामिन डी जैसे तत्व हड्डियों की मजबूती प्रदान करने में मददगार होते हैं!

इसलिए हम यह कह सकते हैं कि ostocalcium हड्डियों के लिए काफी अच्छा है!

Ostocalcium का सामान्य डोज क्या है?

मार्केट में Ostocalcium वयस्कों, महिलाओं और बच्चों के लिए अलग-अलग रूपों में उपलब्ध है!

जैसे – वयस्क लोगों के लिए ओस्टोकैल्शियम टेबलेट के रूप में मिलता है, तो वहीं 30 साल से अधिक उम्र की महिलाओं के लिए ओस्टोकैल्शियम च्युंगम के रूप में मिलता है!

वहीं बात अगर बच्चों की करें तो बच्चों के लिए, ओस्टोकैल्शियम सीरप के रूप में मिलता! है!

अतः हमारे लिए सटीक रूप से यह कह पाना मुश्किल है कि Ostocalcium का सामान्य डोज क्या है!

ओस्टोकैल्शियम की कितनी डोज लेनी है इसके लिए आप डॉक्टर की सलाह लें तो ही ज्यादा अच्छा रहेगा, क्यूंकि शरीर में कैल्शियम की कमी ज्यादा होने पर डॉक्टर आपके लिए इस दवा के डोज को भी बढ़ा सकते है!

ओस्टोकल्शियम के उपयोग | Ostocalcium Tablet Uses in Hindi

ओस्टोकल्शियम एक ऐसी बेहतरीन दवाई है, जिसके उपयोग से हड्डियों से जुड़ी कई परेशानियों को ठीक किया जा सकता है!

यह दवा इतनी कारगर है कि इसका उपयोग सभी कर सकते हैं, फिर चाहे वे छोटे बच्चे हों या फिर बूढ़े या फिर कोई जवान व्यक्ति!

निम्न परिस्थितियों में ओस्टोकल्शियम का उपयोग किया जा सकता है:-

शरीर में कैल्शियम की कमी होने पर

खाने से उचित मात्रा में कैल्शियम नहीं मिलने पर शरीर में कैल्शियम की कमी होना शुरू जाती है! ऐसी स्थिती में ओस्टोकल्शियम के उपयोग से मरीज को फायदा मिल सकता है!

हड्डियां कमजोर होने पर

हड्डियों को मजबूती प्रदान करने में कैल्शियम एक अहम भूमिका निभाता है और चूंकि ओस्टोकैल्शियम शरीर में कैल्शियम की कमी को पूरा करता है, इसलिए आपको इसका उपयोग करना चाहिए!

ऑस्टियोमलेशिया

विटामिन D की कमी से ओस्टियोमलेशिया नाम की बीमारी होती है, जिसमें व्यक्ति की हड्डियां काफी मुलायम हो जाती है!

ओस्टियोमलेशिया जैसी खतरनाक बीमारी के इलाज में ओस्टोकैल्शियम का उपयोग किया जाता है, क्योंकि इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन D मौजूद होता है!

ऑस्टियोपोरोसिस

ऑस्टियोपोरोसिस यानी बोन लॉस की समस्या में हड्डियां हल्की सी चोट से भी फैक्चर हो जाती हैं! ऐसी समस्या होने पर भी डॉक्टर Ostocalcium drug उपयोग की सलाह दे सकता है!

महिलाओं के लिए Ostocalcium क्यों है जरूरी?

महिलाओं को रोजाना 1000 से 1200 mg कैल्शियम की जरूरत होती है! खासकर गर्भावस्था, स्तनपान और रजोनिवृत्ति के समय महिलाओं के शरीर में 1200 mg कैल्शियम अति आवश्यक हो जाता है!

ऐसे में हो सकता है कि आपका दैनिक आहार आपके शरीर में कैल्शियम की आवश्यक मात्रा प्रदान करने के लिए पर्याप्त न हो!

30 की उम्र के बाद भी महिलाओं की हड्डियाँ कैल्शियम खोना शुरू कर देती हैं, जो कि सिर्फ़ आहार से पूरी तरह से नहीं भरा जा सकता! ऐसे में Ostocalcium, महिलाओं के शरीर में कैल्शियम की पूर्ति करने में काफी मददगार साबित होता है!

Ostocalcium गोली कौन ले सकता है?

Ostocalcium गोली का इस्तेमाल हड्डी संबंधित विकारों के इलाज के लिए किया जाता है! बुजुर्गों, गर्भवती व स्तनपान कराने वाली महिलाओं में विटामिन D और कैल्शियम की पूर्ति के लिए Doctor Ostocalcium tablet लेने की सलाह देते हैं!

ऑस्टोकेल्शियम सिरप क्यों प्रयोग किया जाता है? Why Ostocalcium Syrup Uses in Hindi

दोस्तों, अगर आप भी अपने बच्चों के स्वास्थ्य के प्रति जागरूक हैं और आपके मन में ये प्रश्न आ रहा है कि क्या ostocalcium बच्चों के लिए अच्छा है? तो आपको बता दें, इसका जवाब है हां!

दरअसल, शरीर में कैल्शियम की कमी की वजह से बच्चों का शारीरिक विकास रुक जाता है, और ऐसे में बच्चों में कैल्शियम की कमी को पूरा करने के लिए doctor उन्हें ओस्टोकैल्शियम सिरप (ostocalcium syrup for child uses in hindi) लेने की सलाह देते हैं!

आमतौर पर 2 से 10 साल तक के बच्चे को ओस्टोकैल्शियम सिरप दी जाती है! किस उम्र के बच्चे को ओस्टोकैल्शियम सिरप का कितना डोज देना है, इसके लिए आपका डॉक्टर से संपर्क करना ही बेहतर है क्योंकि डॉक्टर बच्चे की उम्र, वजन और स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए इसकी मात्रा तय करते हैं!

Ostocalcium Syrup Dose for Child in Hindi

आमतौर पर बच्चों में कैल्शियम की कमी की पूर्ति के लिए Doctor उन्हें ओस्टोकैल्शियम सिरप एक चम्मच लेने की सलाह देते हैं!

लेकिन आप अपनें बच्चे को Ostocalcium syrup देने से पहले डॉक्टर से इस बारे में जरूर पूछ लें कि बच्चे को दवा का डोज कब और कितनी बार देना है!

ध्यान रखें कि सिरप के डोज को मापने के लिए हमेशा आप सिरप के साथ दिए जाने वाले कैप का इस्तेमाल करें, न कि घर के चम्मच का!

ओस्टोकैल्शियम के साइड इफेक्ट्स

Ostocalcium एक सुरक्षित दवा है और इसका तब तक कोई दुष्प्रभाव देखने को नहीं मिलता, जब तक आप इसका सेवन डॉक्टर की सलाह पर करते हैं!

यदि आप जरूरत से ज्यादा Ostocalcium drug का ओवरडोज लेते हैं तो आपको अपनें शरीर में विभिन्न प्रकार के लक्षण दिख सकते हैं__

  • कब्ज व मतली की शिकायत
  • सिर दर्द व चक्कर आने की समस्या
  • उल्टी आना
  • Mood swings होना
  • कमजोरी व थकान महसूस होना
  • हार्ट रेट का बढ़ जाना
  • मांसपेशियों में दर्द रहना
  • बार-बार यूरिन आना
  • भूख न लगना
  • वजन का घटना
  • हर समय प्यास लगना
  • सांस लेने में समस्या होना
  • Skin rashes व खुजली की समस्या

Ostocalcium की खुराक लेने के बाद आपको अपने अंदर किसी भी प्रकार की समस्या नजर आए तो आप तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें!

कैल्शियम सिरप के फायदे

Ostocalcium सिरप को बहुत से लोग सामान्य भाषा में कैल्शियम सिरप के नाम से जानते हैं, क्यूंकि यह शरीर ने कैल्शियम के कमी को दूर करता है! चलिए इसके फायदों को समझते हैं :-

कैल्शियम एक रासायनिक तत्‍व है, जो हमारे मानव शरीर के लिए बहुत आवश्‍यक होता है! जब शरीर में कैल्शियम की कमी होती है तो हड्डियां कमजोर होकर टूटने लगती हैं!

इसके अलावा कैल्शियम की कमी से मांसपेशियों में ऐठन, याद्दाश्त में कमी, शरीर सुन्न होना और हाथों- पैरों में झुनझुनाहट जैसी तमाम समस्याएं भी उत्पन्न हो जाती हैं!

कैल्शियम सिरप सामान्य ब्‍लड क्‍लॉटिंग में भी अहम भूमिका निभाता है! क्‍लॉटिंग की प्रक्रिया में कई तरह के स्‍टेप्‍स होते है, जिसमें केमिकल्‍स शामिल होते हैं! यानी एक तरह से अगर शरीर में कैल्शियम की कमी हो जाए तो, एक बार चोट लग जाने के बाद, आपका खून बहना बंद ही नहीं होगा!

कैल्शियम सिरप कमजोर व पतली हो चुकी हड्डियों को मजबूत करने में, दिल की कमजोरी में, महिलाओं के अनेक रोगों के उपचार आदि में काफी फायदेमंद होता है!

ऑस्टोकेल्शियम खाने से क्या होता है?

ओस्टोकैल्शियम शरीर में दैनिक कैल्शियम की आवश्यकता को पूरा करने के लिए एक बेहतर विकल्प हो सकता है! इसे खाने से शरीर में कैल्शियम और विटामिन डी की कमी पूरी होती है! ओस्टोकैल्शियम दवा लेने से हड्डियों को मजबूती मिलती है! इससे हड्डियां पूरी तरह स्वस्थ रहती हैं!

निष्कर्ष – Conclusion

Ostocalcium एक ऐसी दवा है, जिसके इस्तेमाल से शरीर में कैल्शियम और विटामिन D की कमी दूर की जा सकती है!

अतः इस आर्टिकल में आपने Ostocalcium syrup uses in hindi – ऑस्टोकेल्शियम क्या है? इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स आदि के बारे में विस्तार से जाना!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here