Home Health Periods का दर्द कैसे दूर करें – Periods pain relief remedy

Periods का दर्द कैसे दूर करें – Periods pain relief remedy

0

Periods में होने वाले pain को Menstrual cramps भी कहते हैं जिसका सामना लगभग हर महिला को अपने मासिक धर्म के दौरान करना पड़ता है। कुछ महिलाएं पीरियड्स का दर्द दूर करने के लिए medicine का इस्तेमाल करती हैं जबकि कुछ घरेलू उपाय का। हम अपने इस लेख Periods का दर्द कैसे दूर करें – Periods pain relief remedies in Hindi में पीरियड्स का दर्द कम करने के 8 तरीके लेकर आए हैं जो आसान होने के साथ-साथ काफी असरदार भी हैं।

Periods Pain Relief Remedies in Hindi / Menstrual cramps

नीचे बताए गए Periods pain relief remedies में से आप किसी भी एक, दो या फिर सभी उपायों का इस्तेमाल कर सकती हैं।

यहां बताए गए सभी उपाय ही काफी ज्यादा असरदार और फायदेमंद हैं।

Hot water bottle/ Heating Bag / Home made heating pad for Girls in Menstruation

पीरियड्स के दर्द से छुटकारा पाने के लिए महिलाएं अक्सर hot water bag का इस्तेमाल करती हैं because यह तरीका आसान होने के साथ-साथ असरदार भी है।

हॉट वाटर बैग में गर्म पानी भर के ढक्कन को कस के बंद कर देना होता है और इसे दर्द वाले हिस्से पर लगाकर बैठना या लेटना होता है।

अगर आपके पास hot water heating bag नहीं है तो वह आप किसी साधारण से बोतल में भी गर्म पानी भरकर सिंकाई कर सकती हैं।

ऐसा करने पर हॉट वाटर बोतल या बैग से निकलने वाली गर्मी धीरे-धीरे मांसपेशियों को आराम देती है जिसके कारण periods के दर्द से छुटकारा मिल जाता है।

मासिक धर्म में होने वाले दर्द के लिए Homemade Heating pad कैसे बनाएं

Home made heating pad बनाने के लिए किसी भी कॉटन कपड़े के थैले में कच्चे चावल भरें और इसे चारों तरफ से अच्छी तरह सिलाई करें ताकि चावल बाहर ना आ सके।

अब इस चावल वाले थैले को आप माइक्रोवेव या गर्म तवे पर 5 मिनट के लिए रखकर दोनों तरफ से गर्म करें। बस आपका हीटिंग बैग तैयार है।

NOTE: अगर घर पर बनाया गया हीटिंग बैग ज्यादा गर्म हो जाए तो इसे किसी तौलिए में लपेटकर इस्तेमाल करें और जब यह ठंडा हो जाए तो इसे दोबारा गर्म करके इस्तेमाल करें।

Periods का दर्द दूर करने के best medicine है यह चाय

पीरियड्स का दर्द दूर करने के लिए अदरक की चाय पिएं।

अदरक की चाय बनाने के लिए एक गिलास पानी में एक से डेढ़ इंच के अदरक के टुकड़े को महीन काट कर डालें और पानी को तब तक उबालें जब तक कि आधा गिलास पानी ना बच जाए।

बस आपकी अदरक की यह चाय तैयार है। इसमें आप चाहे तो नींबू की कुछ बूंदे और थोड़ा सा नमक या चीनी डालकर पी सकती हैं।

मासिक धर्म के दौरान चायपत्ती या कॉफी पाउडर से बनी हुई चाय या कॉफी नहीं पीनी चाहिए क्योंकि यह ब्लाटिंग की समस्या को बढ़ावा देती हैं।

Periods Pain कम करने के लिए यह योगा और एक्सरसाइज करें

Periods का दर्द कैसे दूर करें – इस कड़ी में एक्सरसाइज और योग एक बहुत ममहत्वपुर्ण भूमिका निभाती हैं।

पीरियड्स के दर्द से छुटकारा पाने के लिए आप बहुत ही हल्की-फुल्की aerobic एक्सरसाइज कर सकती हैं।

अगर आप एक्सरसाइज नहीं करना चाहती हैं तो ये तीन योगा आप बिस्तर पर बैठे-बैठे ही कर सकती हैं –

  1. बालासन (Child Pose)
  2. भुजंगासन (Cobra Pose)
  3. पूर्ण तितली आसन (Butterfly Pose)

यह तीनों ही होगा आपके पेट की मांसपेशियों को आराम पहुंचाती हैं जिसकी वजह से periods pain में बहुत relief मिलता है।

भरपूर नींद है Periods का दर्द दूर करने का तरीका

पीरियड्स के दौरान शरीर से रक्त और पोषक तत्वों की लगातार कमी होती रहती है जिसके कारण शरीर काफी नाजुक हो जाता है।

ऐसी स्थिति में दर्द के कारण महिलाएं अक्सर चिड़चिड़ी हो जाती हैं इसलिए उनका भरपूर नींद लेना सबसे अच्छा होता है।

इसके अलावा नींद लेने से पूरे शरीर की मांसपेशियां बिल्कुल relax हो जाती हैं जिसके कारण periods का दर्द काफी ज्यादा कम हो जाता है।

Periods का दर्द दूर करने के लिए क्या खाएं – Periods pain food to eat

मैंने पहले ही बताया कि पीरियड्स के दौरान शरीर में पोषक तत्वों की कमी होती जाती है।

अगर आप शरीर में पोषक तत्वों की कमी ना होने दें तो periods pain relief में आपको काफी ज्यादा फायदा मिलेगा।

पीरियड्स आने के 1 हफ्ते पहले से लेकर पीरियड्स के दौरान आपको anti inflammatory चीजें खानी चाहिए जैसे – टमाटर, अनानास, हरी पत्तेदार सब्जियां आदि।

फलों में केला जरूर खाएं क्योंकि इसमें भरपूर मात्रा में पोटेशियम होता है जो आपके पूरे शरीर के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है।

मसालों में अदरक, दालचीनी और हल्दी को पानी के साथ मिलाकर काढ़ा बनाया जा सकता है। यह मसाले मांसपेशियों को बहुत ज्यादा relax करने में मदद करते हैं।

इसके अलावा प्रतिदिन खाने में ऐसी चीजों को शामिल करें जिसमें कैलशियम और मैग्निशियम ज्यादा मात्रा में हों ताकि मासिक धर्म के दौरान बिल्कुल भी दर्द ना हो।

Periods के दर्द का घरेलू उपाय है पानी

जी हां! किसी ने सच ही कहा है जल ही जीवन है और menstruation के दिनों में लड़कियों के लिए पानी किसी वरदान से कम नहीं है।

साधारण दिनों में भले ही आप 4 से 5 गिलास पानी पिएं लेकिन पीरियड्स के दौरान 1 दिन में कम से कम 6 गिलास पानी जरूर पीना चाहिए।

ज्यादा मात्रा में पानी पीने से पीरियड्स के दौरान blotting और fluid retention जैसी समस्या नहीं होगी।

इसके अलावा आपको अपने खानपान में ऐसी चीजों को शामिल नहीं करना चाहिए जो शरीर में dehydration (पानी की कमी) का कारण बने। जैसे – कैफीन और ज्यादा नमक वाले खाद्य पदार्थ।

Special Tip – अगर आपको साधारण पानी पीना अच्छा नहीं लगता तो आप कोई जूस बनाकर पी सकती हैं या नींबू पानी भी पी सकती हैं।

Periods का दर्द खत्म करने के लिए लाफ्टर थेरेपी या मेडिटेशन करें

अगर आप menstruation के दौरान ज्यादा stress ले रही हैं तो आपको दर्द और भी ज्यादा महसूस होगा।

इससे बचने के लिए सबसे अच्छा है कि आप meditation का सहारा लें। मेडिटेशन करने से तनाव दूर होता है और मानसिक शांति मिलती है।

अगर आप मेडिटेशन नहीं कर पातीं तो अपना कोई भी मन पसंदीदा लाफ्टर शो देखें और हंसी-हंसी में तनाव को भूल जाए।

यूट्यूब पर आपको स्टैंड अप कॉमेडी या कपिल शर्मा शो के videos मिल जाएंगे जिनको देखकर आप अपने पीरियड्स को हंसी खुशी बिता सकती हैं।

Periods के दर्द कम करने में राहत देगा मसाज

पीरियड्स में पेट दर्द कम करने का यह उपाय काफी ज्यादा असरदार है।

मसाज करने के लिए आप कोई भी ऐसे तेल का इस्तेमाल कर सकती हैं जिसे शरीर पर लगाया जाता हो।

तेल को एक कटोरी में निकाल लें और उसे सावधानीपूर्वक हल्का सा गर्म करें। तेल गर्म करते वक्त यह ध्यान दें कि तेल जल ना जाए।

जब तेल हल्का सा गर्म हो जाए तो उसे पहले अपने हाथ पर थोड़ा सा लगा कर तापमान देखें।

अगर तापमान इतना हो कि तेल को पेट के दर्द वाली जगह पर लगाया जा सके तो तेल लगा कर मसाज शुरू करें।

थोड़ी देर में जब दर्द से हल्का आराम महसूस होने लगे तो रुक जाएं।

मेरी सलाह – मसाज के लिए सरसों के तेल या तिल के तेल या नारियल तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें एक या दो बूंद एसेंशियल ऑयल की मिला देने से और भी ज्यादा फायदा मिलेगा।

क्लिक करके यह भी पढ़ें –

पीरियड्स में यह 9 गलतियां भूल से भी ना करें

Periods जल्दी लाने के असरदार घरेलू उपाय

पीरियड्स क्या होता है, क्यों होता है, कैसे होता है – पीरियड्स का पूरा सच

10 Best PERIOD HACKS for GIRLS in Hindi – Must know

FAQ for Periods Pain in Hindi

प्रश्न – पीरियड्स में पेट में दर्द क्यों रहता है?

उत्तर – पीरियड्स में पेट में दर्द इसलिए रहता है because पीरियड्स के दौरान prostaglandins ऐसे हार्मोन को निकालने के लिए प्रेरित करती है जो गर्भाशय ( Uterus ) को संकुचित करते हों।

पीरियड्स के दौरान गर्भाशय का संकुचित होना इसलिए जरूरी है ताकि गर्भाशय से अनिषेचित अंडा (unfertilized egg) और अंडे के निषेचन(fertilization) लिए इकट्ठा हुए पोषक तत्व शरीर से बाहर निकल सकें।

एक महिला के शरीर में जितनी अधिक मात्रा में प्रोस्टाग्लैंडीन(लिपिड का एक समूह) होंगे उसे पीरियड्स के दौरान उतना ही ज्यादा दर्द होगा।

मुझे उम्मीद है कि आप हमारे इस लेख Periods का दर्द कैसे दूर करें – Periods pain relief remedy से पूरी तरह संतुष्ट हुए होंगे।

अगर अब भी आपके मन में कोई सवाल है या आप हमसे Skin Care, Hair Care या Health से जुड़ी किसी अन्य समस्या का समाधान चाहते हैं तो कमेंट करके जरूर बताएं।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

error: Content is protected !!
Exit mobile version